25 सालों से जला रहे भारत – पाक दोस्ती के लिए मोमबत्तियां, हर साल हिंदुस्तान बढ़ाता है दोस्ती का हाँथ पर पाक करता है पीठ पर वार

0
314

हर साल हिंदुस्तान बढ़ाता है दोस्ती का हाँथ पर पाक करता है पीठ पर वार

अमृतसर (पंजाब) 25 वें हिन्द पाक दोस्ती मेले के दौरान भारत और पाक के रिशतो में मिठास लाने के लिए आज भी भारत और पाक की आज़ादी दिवस पर भारत पाक बॉर्डर पर कैंडल लाइट का आयोजन किया गया। हिन्द पाक दोस्ती मंच, फोक्लोर रिसर्च अकैडमी, पंजाब जागृति मंच और साफमा की तरफ से आयोजित इस समागम में कोरोणा वाइरस के चलते लगाई गई पाबंदियों की पालना करते हुए इस बार चंद लोगों ने भारत पाक सरहद पर मोमबतियां जला अमन शांति का संदेश दिया और हिन्द पाक दोस्ती ने नारे लगाए। भारत पाक दोस्ती मंच के मुख्य सतनाम माणिक का कहना है कि भारत के लोग पाकिस्तान के लोगो के साथ दोस्ती चाहते है जिस वजह से वह आज भी कैंडल लेकर यहाँ पहुंचे है और उन्हें आशा है कि आने वाले समय में पाकिस्तान के लोग भी इस मंच में शामिल होकर इस दोस्ती के सन्देश को आगे बढ़ाएंगे और उन्हें विस्वाश है कि जल्द ही दोनो पड़ोसी मुल्कों मे प्यार जरूर आएगा और वह भी इस रिश्ते को आगे बढ़ाने की कोशिश करेंगे ।

इस कार्यक्रम में शामिल हुए दिल्ली के लोगो का कहना है की ये दौर जंग का चल रहा है और वह इस हिन्द पाक दोस्ती मंच में शामिल होकर इस दौर को ख़तम करना चाहते है । उनका कहना है की विभाजन के जख्म आज भी ताज़े हो जाते है उस समय इंसानियत का कत्ल हुआ था । दिलो में कड़वाहट है, लकिन हिन्द पाक दोस्ती मंच दिलो में प्यार भरने की कोशिश कर रही है। उनका कहना है कि वह प्यार का सन्देश लेकर यहाँ पहुंचे है और कुछ सियासती लोग अपनी सियासत को चमकाने की कोशिश में लगे हैं। लेकिन दोनों देशों की आवाम एक दूसरे से मिलना चाहती है और सरहदें उन्हें बंटती हैं ।दोनों देश के लोग एक दूसरे को अपना समझते हैं ।

फोक्लोर रिसर्च अकैडमी के प्रधान रमेश यादव का कहना है कि वह पिछले 25 सालों से भारत पाक हिन्द मेला करवा रहे है। सरहदों पर सेनाएं तैनात हैं । जिसका असर आम लोगो पर भी पड़ रहा है ,लेकिन आवाम की सोच कुछ और है। उनका कहना है कि पाकिस्तान सरकार की तरफ से परमिशन नही दी गयी । पर उन्हें पूरा विशवास है कि एक दिन हिन्द पाक दोस्ती का मिशन जरूर पूरा होगा।