गमाडा ने जायदादों की ई-नीलामी से रिकॉर्ड 1935 करोड़ रुपए कमाऐ

0
36

6 ग्रुप हाउसिंग साईटों सहित कुल 47 जायदादों की नीलामी की

गमाडा ने ई-नीलामी में सबसे अधिक कीमत की जायदादें बेचने का रिकॉर्ड बनाया

आवास निर्माण और शहरी विकास मंत्री अमन अरोड़ा द्वारा ई-नीलामी सफल करार

चंडीगढ़/ एस. ए. एस. नगर, 7 मार्चः

ग्रेटर मोहाली एरिया डिवैल्लपमैंट अथॉरिटी (गमाडा) की अलग-अलग जायदादों की कल देर शाम समाप्त हुई ई-नीलामी को काफी समर्थन मिला है और अथॉरिटी ने जायदादों की नीलामी से 1935. 88 करोड़ रुपए की कमाई की है। यह जायदादें, जिनमें ग्रुप हाउसिंग, कमर्शियल चंक, नरसिंग होम, आई. टी. उद्योगिक प्लाट, एस. सी. ओज. और बूथ शामिल हैं, गमाडा के अलग-अलग प्रोजेक्टों जैसे आई. टी. सिटी, एयरोसिटी और एस. ए. एस. नगर (मोहाली) के अन्य सैक्टरों में स्थित हैं। ज़िक्रयोग्य है कि यह ई-नीलामी 17 फरवरी को शुरू हुई थी।

ई-नीलामी को मिले भरपूर समर्थन पर खुशी ज़ाहिर करते हुये पंजाब के आवास निर्माण और शहरी विकास मंत्री श्री अमन अरोड़ा ने इस नीलामी को सफल करार दिया। उन्होंने बताया कि किसी एक ई-नीलामी में गमाडा की तरफ से अब तक यह सबसे अधिक कीमत की जायदादें बेची गईं हैं। आवास निर्माण और शहरी विकास मंत्री ने सभी सफल बोलीकारों को बधाई दी और कहा कि गमाडा उनकी तरफ से किये जाने वाले निर्माणों के लिए हर संभव सहयोग देगा।

कुल 6 ग्रुप हाउसिंग साईटें बोली के लिए उपलब्ध थीं और इन सभी को खरीददार मिल गए। सैक्टर 83 अल्फा, आई. टी. सिटी में स्थित ग्रुप हाउसिंग साइट नं. 7 के लिए 325.59 करोड़ रुपए की सबसे अधिक बोली लगी। श्री अमन अरोड़ा ने बताया कि यह साइट लगभग 8 एकड़ क्षेत्रफल में फैली हुई है। इसी स्थान पर 8 एकड़ क्षेत्रफल में फैली एक अन्य ग्रुप हाउसिंग साइट नं. 8 को 293.49 करोड़ रुपए में नीलाम किया गया है।

सैक्टर 88 की ग्रुप हाउसिंग साइट नं. 5 के लिए 301.21 करोड़ रुपए की बोली लगाई गई और इसी सैक्टर की एक अन्य ग्रुप हाउसिंग साइट नं. 4197. 47 करोड़ रुपए में नीलाम की गई जबकि सैक्टर 66 में स्थित लगभग 4.40 एकड़ क्षेत्रफल की ग्रुप हाउसिंग साइट के लिए 211.32 करोड़ रुपए की सफल बोली लगी, इस सैक्टर की एक अन्य साइट से बोली के दौरान 147.72 करोड़ रुपए की कमाई हुई।
श्री अमन अरोड़ा ने बताया कि एयरोसिटी में कमर्शियल चंक साइट की बोली लगभग 203.80 करोड़ रुपए और सैक्टर 69 के एक नरसिंग होम साइट की बोली 13.94 करोड़ तक गई। इसके इलावा, अथॉरिटी ने आई. टी. सिटी में स्थित 9 आई. टी. उद्योगिक प्लाटों की पेशकश की थी, जोकि सभी ही बिक गई हैं। श्री अमन अरोड़ा ने बताया कि इसके इलावा सैक्टर 69 में स्थित 19 एस. सी. ओज. और 38 बूथ भी बोली के लिए उपलब्ध थे, जिनमें से 2 एस. सी. ओज. और 28 बूथ बिक गए हैं।

अथॉरिटी की तरफ से अंतिम बोली की कीमत का 10 फ़ीसदी और 2 फ़ीसदी सैस्स का भुगतान करने पर सफल बोलीकारों को अलाटमैंट पत्र जारी किया जायेगा। बोलीकारों की तरफ से अंतिम बोली की कीमत की 15 फ़ीसद रकम जमा करवाये जाने पर उनको सम्बन्धित साईटों का कब्ज़ा सौंपा जायेगा।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि निवेशकों ने आवास निर्माण और शहरी विकास विभाग के कामकाज पर बड़ा भरोसा जताया है और विभाग की तरफ से खरीददारों को पूरा सहयोग दिया जायेगा।
——